picknews

Online News

Hindi Top News

Telecom tariff hike: टेलिकॉम टैरिफ में वृद्धि से झटका नहीं: सरकार – telecom tariff hike would not hurt says government | PickNews

फाइल फोटोफाइल फोटो
हाइलाइट्स

  • टैरिफ में वृद्धि के बाद देश में वायरलेस डेटा की औसत कीमत 16.49 प्रति जीबी होगी
  • सरकार का कहना है कि टैरिफ में वृद्धि के बावजूद डेटा और वॉइस दर दुनिया में सबसे कम है
  • सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री ने कहा, यूपीए सरकार की तुलना में मोबाइल डेटा कीमत अब बेहद कम

नई दिल्ली

सरकार ने इस बात से इनकार किया है कि मौजूदा टेलिकॉम टैरिफ वृद्धि ग्राहकों को चुभेगी। सरकार का तर्क है कि टैरिफ में इजाफे के बावजूद भारत में डेटा और वॉइस कॉल रेट दुनिया में सबसे सस्ता है और चार साल पहले के मुकाबले भी बेहद कम है। गौरतलब है कि टेलिकॉम सेक्टर के तीनों प्राइवेट प्लेयर्स रिलायंस जियो, एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया ने राजस्व और मुनापा बढ़ाने के लिए प्रीपेड प्लान्स को 40 फीसदी तक महंगा कर दिया है।

वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने नाम गोपनीय रखने की शर्त पर कहा कि टैरिफ में वृद्धि के बाद वायरलेस डेटा की औसत कीमत 16.49 प्रति जीबी होगी, जोकि दुनिया में सबसे कम है। आउटगोइंग कॉल्स पर प्रति मिनट औसतन 18 पैसे खर्च होंगे, जबकि मार्च में 13 पैसे लगते थे।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को ट्वीट किया था कि नरेंद्र मोदी की अगुआई वाली एनडीए सरकार ने मोबाइल इंटरनेट की ऊंची कीमत (2014 में 268.97 प्रति जीबी) को कम किया है। cable.co.uk के आंकड़ों का हवाला देते हुए प्रसाद ने ट्वीट किया, ‘भारत में मोबाइल इंटरनेट डेटा कीमत दुनिया में सबसे कम है।’ ‘ट्राई के मुताबिक, मौजूदा दर 11.78 प्रति जीबी है।’

मंत्री ने यह प्रतिक्रिया कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता पवन खेड़ा के रविवार के उस बयान के बाद बाद दी, जिसमें उन्होंने कहा कि प्राइवेट प्लेयर्स एक बार फिर दाम बढ़ा रहे हैं। टैरिफ में वृद्धि से उन्हें हर महीने 36,000 करोड़ रुपये मिलेंगे। विश्लेषकों का कहना है कि अधिकतर प्लान्स में मुफ्त वॉइस कॉल समाप्ति के साथ भारत के टेलिकॉम सेक्टर में यह सर्वाधिक टैरिफ वृद्धि है।

LEAVE A RESPONSE

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com