picknews

Online News

Hindi Top News

uddhav thackeray pc maharashtra shiv sena bjp mahayuti government devendra fadnavis | maharashtra – News in Hindi | PickNews

मुंबई. महाराष्ट्र की राजनीति में बीजेपी और शिवसेना के बीच कड़वाहट खुलकर सामने आ गई है. पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के आरोपों पर जवाब देते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा, हम बीजेपी जैसे नहीं हैं. जो वादा करते हैं, उसे निभाते हैं. बीजेपी ने सिर्फ 5 साल राजनीति की है. मैंने सीएम पोस्ट पर स्पष्ट बात की थी. हम डिप्टी सीएम के लिए तैयार नहीं थे. शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा कि हम कभी अपने वचन से पीछे नहीं हटते. बीजेपी ने विकास की जगह सिर्फ राजनीति की. उन्होंने बाल ठाकरे के बच्चों को झूठा कहा.

उद्धव ठाकरे ने कहा, चुनाव से पहले बीजेपी ने मीठी मीठी बातें की. अब हम बीजेपी के झांसे में नहीं आएंगे. हम बराबरी चाहते थे. मैं अब भी उन्हें दुश्मन नहीं मानता. हमें सीएम बनाने के लिए फडणवीस की जरूरत नहीं.  प्रेस कॉन्फ्रेंस में  ठाकरे ने कहा, हमने कभी भी पीएम मोदी की आलोचना नहीं की. हमने कभी दुष्यंत चौटाला जैसी भाषा का इस्तेमाल नहीं किया. उद्धव ठाकरे ने जो आरोप लगाए वह झूठे हैं. झूठ बोलने वालों से बात नहीं करनी. देवेंद्र फडणवीस ने ये कैसे कह दिया कि हम सरकार बनाएंगे. बिना बहुमत वह कैसे सरकार बनाएंगे. क्या कर्नाटक, मणिपुर  की तरह महाराष्ट्र में भी सरकार बनाएंगे.

देवेंद्र फडणवीस पर लगाए आरोप
उद्धव ठाकरे ने कहा, मुझे देवेंद्र फडणवीस से ऐसे आरोपों की उम्मीद नहीं थी. हमने देवेंद्र फडणवीस के कारण ही गठबंधन जारी रखा था. उन्होंने 5 साल के कामों का श्रेय खुद ही ले लिया. हम सरकार में बराबरी चाहते थे. डिप्टी सीएम पद हमें मंजूर नहीं था.

आरएसएस पर भी बोले उद्धव

उद्धव ने कहा, आरएसएस के बारे में हमें बहुत सम्मान है. आरएसएस को यह सोचना चाहिए की झूठ बोलना किसकी संस्कृति है. राममंदिर पर सरकार को श्रेय नहीं लेना चाहिए. राममंदिर कोर्ट का फैसला है.
मुझे झूठा रिश्ता नहीं रखना है. हमने अभी एनसीपी और कांग्रेस से बात नहीं की. हमारे पास सरकार का विकल्‍प खुला हुआ है. अगर बीजेपी सरकार नहीं बनाएगी तो हमारे पास सभी विकल्‍प खुले हुए हैं. उद्धव ठाकरे ने कहा, बीजेपी को हमें सीएम पद देना ही होगा.
मुझे दुख है कि हमने गलत लोगों के साथ गठबंधन किया
उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा, गंगा साफ करते करते उनका दिमाग प्रदूषित हो चुका है. हमें दुख है कि हमने ऐसे लोगों के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा. हमने बातचीत के लिए कभी भी दरवाजे बंद नहीं किए. वह झूठ बोल रहे हैं कि हमने बातचीत नहीं की. हमने अब तक एनसीपी से कोई बातचीत नहीं की है.

देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने शुक्रवार को राजभवन में राज्‍यपाल से मिलकर मुख्‍यमंत्री पद से इस्‍तीफा दे दिया.

 

CM पद से इस्‍तीफा देने के बाद फडणवीस बोले- चुनाव में हमारे गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला
इससे पहले, राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए फडणवीस ने कहा कि राज्यपाल ने मेरा इस्तीफा स्वीकार किया. मैंने 5 साल महाराष्ट्र की सेवा की. राज्य में सूखे की समस्या दूर करने की कोशिश की. इस बार चुनाव में हमारे गठबंधन को पूर्ण बहुमत मिला.

मोदी जी, अमित शाह, जेपी नड्डा सहित सभी मित्रों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए फडणवीस ने कहा कि पारदर्शी तरीके से हमने सरकार चलाई. महाराष्ट में हर संकट का सामना साहस के साथ किया. हमने जलयुक्त शिवार योजना चलाई. इंफ्रास्ट्रक्चर का बडा काम हमने खड़ा किया. महाराष्ट्र में इंफ्रास्ट्रक्चर और सभी प्रकल्प हमने शुरु किया और पूरा किया. शहर और गांव में पांच सालों में विकास बहुत हुआ.

उद्धव ठाकरे ने फोन नहीं उठाया: फडणवीस
फडणवीस ने कहा कि जनता ने लोकसभा में प्रचंड बहुमत दिया. विधानसभा में महागठबंधन के तौर पर लोगों के बीच गया. हमारे गठबंधन को संपूर्ण बहुमत दिया. बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनी. उन्होंने कहा कि कई मुद्दों पर बात करने के लिए मैंने उद्धव को फोन किया था. लेकिन उन्‍होंने मेरा फोन नहीं उठाया था. बीजेपी और शिवसेना के बीच कभी भी सीएम पद को लेकर 50-50 के फॉर्मूले पर निर्णय नहीं हुआ था. मैंने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, नितिन गडकरी से भी इस बारे में पूछा, लेकिन उन्होंने भी सीएम पर 50-50 फॉर्म्युले पर किसी भी तरह के फैसले से इनकार किया.

संजय राउत ने फडणवीस के आरोपों का किया खंडन
शिवसेना नेता संजय राउत ने देवेंद्र फडणवीस के आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि शिवसेना की वजह से कोई बातचीत नहीं रूकी. हमारा इतना ही कहना था कि फडणवीस साहब बोल रहे थे कि 50-50 की बात कभी नहीं हुई थी. ढाई-ढाई साल का फॉर्मूला कहीं नहीं हुआ था. मुझे इस बारे में मालूम नहीं है. लेकिन, उद्धव साहब का कहना है कि बातचीत हुई थी.

ये भी पढ़ें-

कांग्रेस को भी सताया हार्स ट्रेडिंग का डर, मुंबई से विधायक लाए गए जयपुर

LEAVE A RESPONSE

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *

www.000webhost.com